September 26, 2022
1 Ethereum to Indian rupees

1 Ethereum to Indian rupees

1 Ethereum to Indian rupees :- हमारे आस-पास बहुत से क्रिप्टो करेंसी हैं। जिसमे से एक बहुत लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी है – Ethereum . Ethereum का संचालन Blockchain तकनीक के ऊपर आधारित है, यह बहुत महंगा क्रिप्टोकरेंसी  है।

1 Ethereum to Indian rupees की कीमत जानेंगे तो आप चौक जाएंगे।

पिछले कुछ दिनों से Ethereum की कीमत में बहुत इज़ाफा हुआ है । 1 Ethereum to Indian rupees के बारे में जानकर आप  इसके लोकप्रिय होने का कारण समझ सकते हैं।  Ethereum के बारे में ज्यादा जानने के लिए आर्टिकल में अंत तक बने रहें ।


Ethereum क्या है ? OR 1 Ethereum to Indian rupees

Ethereum एक डिजिटल मुद्रा या कहे, तो एक आभाषी मुद्रा है। जो  कि  गणित की जटिल कोडिंग प्रक्रिया का हिस्सा है । इसे  हाई परफॉर्मेंस कम्प्यूटर प्रोग्राम द्वारा बनाया जाता है।

Ethereum को Ether भी कहते हैं। इसमें होने वाले ट्रांजैक्शन को कोई भी सरकार या बैंक नियंत्रित नही करती है। Ethereum के लिए आपको बैंक अकाउंट की आवश्यकता भी नही होती।

आप स्वयं ही Ethereum को अपने Ethereum wallet से नियंत्रित कर सकते हैं, जिसमे तीसरे पक्ष की आवश्यकता भी नही होती।

Ethereum को प्राप्त करने के लिए आपको एक इंटरनेट कनेक्शन चाहिए और Ethereum वॉलेट चाहिए। उसके बाद आप इसका ट्रांजैक्शन कर सकते हैं।

Ethereum 18 दशमलव स्थानों तक विभाज्य है, अर्थात आपको एक बार में एक पूर्ण Ethereum खरीदने की आवश्यकता नही है आप इसका अंश ही खरीद सकते हैं वो भी 18 दशमलव स्थान तक  इसलिए इसे खरीदना आसान है ।


Ethereum का मूल्य इतना अधिक क्यों है ?

यह दूसरे क्रिप्टो की तरह बहुत महंगा है । Ethereum क्रिप्टो की दुनिया का राइज़िंग स्टार है । लोग बड़े अमाउंट में ट्रांजैक्शन करना चाहते हैं, वो भी बिना टैक्स पे किये या इसका उपयोग काली कमाई को छुपाने के लिए भी बहुत अधिक मात्रा में किया जा रहा है।

चूंकि इसका नियंत्रण किसी सरकार या बैंक के पास नही है, तो इसका ट्रांजैक्शन किसी तीसरे पक्ष को पता नही चलता। Ethereum के लेन-देन में दो पक्ष ही होते हैं, जिसमें आपका वॉलेट और Ethereum प्रदाता ।

Ethereum के महंगे होने का कारण यह भी है, कि इसे बनाना इतना आसान नही है। यह सुपर कम्प्यूटर जैसे तेज कंप्यूटर ही कर सकते हैं।

जितने Ethereum Coin बनते जाएंगे, उतना ही कठिनाई से अगला एक नया Ethereum मुद्रा बनेगा, क्योंकि यह बहुत अत्यधिक जटिल प्रोग्रामिंग है और इसलिए ही इसे असंख्य बार नही बनाया जा सकता, इसकी संख्या निश्चित रूप से लिमिटेड है । इसलिए भी इसकी कीमत सामान्य मुद्रा से कई गुना अधिक होती है।


1 Ethereum to Indian rupees

Ethereum का मूल्य लगातार उतार -चढ़ाव का रहा है । लेकिन इसके मूल्य में लगातार भारी वृद्धि देखी गयी है। आज की तारीख में 1 Ethereum to Indian rupees की बात करें तो लगभग 1,56,863 रुपये है ।

हम इसके शुरुआती मूल्य से अभी तक के मूल्य पर ध्यान दें और देखे की भारतीय रुपयों में यह प्रत्येक वर्ष कितने में मिला है तो आप चौक जाएंगे :-

  • 14 Oct 2016 को 1Ethereum का  मूल्य13  रुपये था।
  • 13 oct 2017 को 1 Ethereum का मूल्य 21843 रुपये हो गया ।
  • 12 oct 2018 को 1 Ethereum का मूल्य 14497 रुपये रहा ।
  • 18 oct 2019 को 1 ether का मूल्य घट कर 12233 रुपये रह गया ।
  • 23 oct 2020 जिसमें 1 ether का मूल्य 30465 रुपये हो गया फिर ether ने पीछे मुड़ कर नही देखा लगातार यह महंगा होता गया ।

19 No 2021 को यह अपने उच्चतम मूल्य पर पहुँचा था जहां 1 ether 3,28,170 रुपये में मिलने लगा ।

इसकी Value भले ही कम हुई हो, लेकिन भविष्य में सरकार इसके प्रयोग को कुछ प्रतिबन्धों व सुरक्षा के साथ उपयोग करने लगे तो हमें आश्चर्य नही होना चाहिए।


Ethereum Mining क्या है ?

Mining का नाम सुनते ही हम कोल ,सोना या हीरा माइनिंग के बारे में सोचने लगते हैं, लेकिन क्रिप्टो माइनिंग  इससे बहुत अलग है।

पहले चीन में इस तरह की करेंसी की खूब माइनिंग होती थी, लेकिन वहां की सरकार ने इसे प्रतिबंधित कर दिया है ।इसका फायदा कजाकिस्तान ने उठाया अब वहां दुनिया में दूसरे नम्बर पर सबसे अधिक माइनिंग होती है ।

माइनिंग का मतलब है, कि नए Ethereum को Introduce करना । चलो हम इसे आसान भाषा में समझते हैं, जब आप किसी व्यक्ति को पैसे ट्रांसफर करते हैं, तो पहले वह अमाउंट बैंक के पास जाता है और बैंक उसे Validate कर उक्त व्यक्ति के पास वह अमाउंट भेज देता है।

Ethereum माइनिंग में भी यही होता है, जब हम किसी को क्रिप्टो मुद्रा भेजते हैं  तो वह पहले कम्प्यूटर में जाता है, जहाँ कुछ रजिस्टर्ड लोग बैठते हैं, जिन्हें माइनर कहते हैं।

वह उस क्रिप्टो अमाउंट को Validate करते हैं और आगे ट्रांसफर करते हैं, बदले में उन माइनर को कुछ अंश क्रिप्टो करेंसी मिल जाती है, इस प्रकार क्रिप्टो की लेन-देन बहुत सुरक्षित मानी जाती है।


ब्लॉकचेन तकनीक

माइनिंग का काम ब्लॉकचेन तकनीक से सम्भव हो पाता है । जैसे किसी व्यक्ति का Ethereum ट्रांसफर करते हैं, तो वह माइनर के कम्प्यूटर में जाता है, उसे वह वैलिडेट कर सारी जानकारी को एक ब्लॉक के रूप में रखता है, जिसमें उससे जुड़े सारे कम्प्यूटर की जानकारी होती है।

जब जानकारी कम्प्लीट हो जाती है, तो दूसरी ब्लॉक बनाई जाती है और उसे पहले वाले ब्लॉक से जोड़ दी जाती है, इसे ही ब्लॉक चैन तकनीक कहते हैं। इससे क्रिप्टो ( Ethereum ) का लेन-देन बहुत सुरक्षित हो जाता है तथा इसके प्रोग्रामिंग में कोई गड़बड़ी नही आती।


Ethereum के कारण पैदा हुए संकट

Ethereum एक क्रिप्टो करेंसी तो है ही लेकिन इसके कारण टेरर फंडिंग को बढ़ावा मिलता है । काली कमाई को छुपाने में मदद मिलती है। जिससे देश की इकनॉमी पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है।

साथ ही जो मूल करेंसी है, उसका सूखा पड़ सकता है और यह किसी भी देश के लिए बहुत बड़ी चुनौती है।

इसके साथ ही इसकी माइनिंग में लगने वाली बिजली व कम्प्यूटर पार्ट्स के कारण होने वाली भारी प्रदूषण ,ग्लोबल वार्मिंग को नजर अंदाज़ नही किया जा सकता ।

इसके ट्रांसफर के सोर्स को ढूंढना अत्यधिक जटिल प्रक्रिया है, जिससे क्रिप्टो के माध्यम से  होने वाली टेरर फंडिंग को रोकना भी अत्यंत कठिन है।


For More Info Watch This :-

निष्कर्ष

इस लेख में हमने Ethereum से संबंधित सभी  जानकारियों को आपको देने का प्रयास किया है । साथ ही 1 Ethereum to Indian rupees के मूल्यों के बारे में भी बताया है । उम्मीद करते है, यह जानकारी आपके लिए उपयोगी रहा  होगा ।

Also Read :-

Leave a Reply

Your email address will not be published.