October 6, 2022
Ethereum Meaning In Hindi

Ethereum का मतलब क्या होता है ? | Ethereum Meaning In Hindi

Ethereum meaning in Hindi :- Google में यदि आप Ethereum meaning in Hindi ढूंढ रहें हैं, तो यह आर्टिकल आपके लिए है।

Ethereum को ether भी कहते हैं, यह सबसे तेजी से ग्रोथ करने वाला क्रिप्टो करेंसी बन चुका है। हर साल मार्केट में नए-नए क्रिप्टो करेंसी इंट्रोड्यूस हो रहे हैं लेकिन ethereum 2014 से लोगों की दूसरी सबसे ज्यादा इन्वेस्ट करने वाली क्रिप्टो बनी हुई है।

Ethereum या अन्य क्रिप्टोकरेंसी एक डिजिटल मुद्रा ही है जिसका अभी पूरा विस्तार व्यापार में हुआ नही है, लेकिन लोग इसकी खूबियों के कारण इसकी ओर आकर्षित हो रहे हैं।

हम लोग इस लेख में ethereum meaning in Hindi के साथ ही ethereum से संबंधित सारी जानकारियां – जैसे इसके निर्माण,निर्माता इसके तकनीक, इससे उत्पन्न समस्याओं को देखेंगे।


Ethereum Meaning In Hindi

Ethereum के निर्माता विटालिक बुटेरिन हैं, जिन्होंने 19 साल की आयु में 2013 में Ether को बनाया था। Ethereum एक जटिल कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग है, जिसे डिजिटल मुद्रा के रुप में इस्तेमाल किया जाता है।

विटालिक ब्यूटेरिन 2013 से पहले 2011 तक बिटकॉइन यूज करते थे।

Ethereum के निर्माता विटालिक ब्यूटेरिन को 2011 में बिटकॉइन पर ट्रेड करते समय  लगा, कि इस ब्लॉकचेन तकनीक में रोबस्ट भाषा का प्रयोग करके अधिक एडवांस बनाया जा सकता है, जिससे  क्रिप्टो की ट्रेडिंग केवल पैसे  के लिए नही हो,  इसके अलावा इसका लेन देन  प्रॉपर्टी और स्कॉट के लिए भी हो।

विटालिक ब्यूटेरिन प्रॉपर्टी और स्कॉट को भी ब्लॉकचेन तकनीक से जोड़ना चाहते थे, इन्ही सब बातों को लेकर जब वह बिटकॉइन के फाउंडर के पास पहुंचे जहाँ बिटकॉइन के कोर डेवलपर ने उन्हें मना कर दिया।

ब्यूटेरिन के प्रोजेक्ट को Reject करने पर वह निराश नही हुए वह खुद ही रोबस्ट स्क्रिप्ट पर काम करने लगे। ब्यूटेरिन ब्लॉकचेन तकनीक में बदलाव चाहते थे, वे उसे और अधिक सुरक्षित करना चाहते थे।

जनवरी 2014, मियामी, द नार्थ अमेरिकन बिटकॉइन कांफ्रेंस के दिन उन्होंने ethereum को लाँच किया, जो बिटकॉइन से कहीं अधिक सुरक्षित था और ethereum से मनी ट्रेडिंग के अलावा अन्य चीज़ों में भी ट्रेडिंग की जा सकती थी।

वैसे ब्यूटेरिन Ethereum को बनाने वाले अकेले नही थे, उनको साथ देने वालों में Gavin wood, charles hoskinson, Antony deloriyo और joseph libin शामिल थे।

अमेरिकन बिलेनियर मार्क क्यूबन जिन्होंने बिटकॉइन और Ethereum दोनों में इन्वेस्ट किया है, उनके अनुसार Ethereum किसी भी अन्य ब्लॉकचेन सिस्टम से अधिक सुरक्षित व favorable है।

तो क्या Ethereum दुनिया की सबसे बड़ी करेंसी है, जो बिटकॉइन को Replace कर देगी ? और अगर ऐसा होने वाला है, तो क्या यह सही टाइम है, Ethereum में इन्वेस्ट करने के लिए, तो आज हम इसी सब के बारे में जानेंगे आज इस आर्टिकल में।

कई प्लेटफॉर्म के अनुसार मई 2021 में करीब 2 करोड़ लोगों ने क्रिप्टोकरेंसी ( जिसमें बिटकॉइन और Ethereum का Stock सबसे ज्यादा है) पर करीब 6.6 बिलियन डॉलर इन्वेस्ट किये हैं, यही नही पिछले छह महीने में Ethereum के आर्डर में करीब 150% की ग्रोथ देखी गई  है।

वर्तमान में Ethereum इतना सक्सेसफुल रहा, कि इसके निर्माता वितालिक ब्यूटेरिन की संपत्ति 1.9 बिलियन डॉलर हो चुकी है।


Ethereum में इन्वेस्ट इतना फ़ायदेमंद कैसे ?

जिन लोगों ने Ethereum के शेयर खरीदे हैं, उनको इस क्रिप्टो करेंसी से हजारों गुना रिटर्न मिल चुका है। कुछ ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म Coin Base, Coin market, Binance के आंकड़ों के अनुसार Ethereum दुनिया के दूसरी सबसे बड़ी करेंसी है।

बिटकॉइन के बाद लेकिन बिटकॉइन व Ethereum की पिछले कुछ महीनों की ग्रोथ रेट देखें तो पता चलता है, कि बिटकॉइन की ग्रोथ रेट 92.97% रही वहीं दूसरी ओर Ethereum की ग्रोथ रेट बिटकॉइन के मुकाबले दुगने से भी अधिक रही लगभग 193.7% मतलब ये दोनों अपनी आपसी Similarities के कारण सबसे टॉप पर हैं।

लेकिन एक बात है, जो ethereum को बिटकॉइन से बेहतर बनाती है, वो है उसकी Consistent growth rate.

बिटकॉइन के प्राइस में बहुत ज्यादा Fluctuation देखा जाता है, लेकिन ethereum काफी Sustainable है, इसीलिए इसे काफी बड़े-बड़े अमेरिकन सेलेब्रिटी की पहली पसंद मानी जाती है।


Ethereum की Brand market

Ethereum केवल पैसे की लेन-देन तक ही सीमित नही रहा, इसने बहुत सारे Ethereum Fungy Token जारी किए, जिससे आप बहुत सारे एप्लीकेशन में एक्सिस पा सकते हैं।

इसने अपने ब्लॉकचेन तकनीक को इतना अधिक सुरक्षित किया, कि माइक्रोसॉफ्ट जैसी बड़ी कंपनियों ने इनकी तकनीक का इस्तेमाल अपने निवेशकों के लिए किया।

यही नही इसने स्कॉट व प्रॉपर्टी के लिए लोन की सुविधा उपलब्ध कराई इन सब कारणों से Ethereum एक ब्रांड बन गया और इसकी ग्रोथ रेट लगातार बढ़ती जा रही है।


Ethereum व अन्य क्रिप्टो पर भारत सरकार का रुख

2017 में अमेरिकन नागरिक जार्ज लेमन ने अपनी आधी सम्पत्ति बिटकॉइन पर लगा दी, जिससे उन्हें भारी मुनाफ़ा हुआ और उनकी सम्पत्ति 1000 गुना तक बढ़ गयी, जिससे उन्होंने बढ़ते मार्केट प्राइस को देखते हुए अपनी कुल सम्पत्ति का 75% हिस्सा बिटकॉइन में निवेश कर दिया और थोड़े ही समय में उनको भारी बड़ा नुकसान उठाना पड़ा और उन्होंने आत्महत्या कर ली

इन्ही चिंजो से आम नागरिक को बचाने के लिए भारत सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी को बैन करने की सोची, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने बैन हटा दिया और कहा कि यह प्रत्येक नागरिक का अधिकार है, कि वह कहाँ इन्वेस्ट करना चाहता है ।

भारत सरकार ने क्रिप्टो से होने वाली अनैतिक गतिविधियों को रोकने के लिए कुछ Rules व Regulation के साथ इसका उपयोग करने की सलाह अपने नागरिकों को दी, जिसे हम Cryptocurrency and regulation of official digital currency bill of 2021 कहते हैं।

इस बिल में कहा गया है, कि सारे इन्वेस्टर्स को ध्यान रखना है, कि क्रिप्टो का इस्तेमाल money laundering व financial terrorism के लिए न हो साथ ही इसमें क्रिप्टो के लाभ में सरकार ने 30% तक टैक्स लगा दिया और साथ ही कुछ Additional charge भी जोड़ दिए।


Ethereum Value In Indian Rupees

अभी वर्तमान में 1 ether की Value Indian rupees में करीब 1,56,555 रुपये के करीब है। 1 ethereum अपने शुरुआती दिनों में 797.13 पैसे के करीब था, Ethereum की उच्चतम Price 19 Nov 2021 को देखा गया जहाँ 1 ether 3,28,170 रुपये तक पहुंच गया था।

भविष्य में ethereum बिटकॉइन को पीछे छोड़ दे, तो हमें आश्चर्य नही करना चाहिए, क्योंकि इसकी ग्रोथ व Demand बीते कुछ वर्षों में बढ़ी है।


For More Info Watch This :


निष्कर्ष :

मुझे आशा है, कि ऊपर मेरे द्वारा दी गयी जानकारी आपको पसंद आई होगी और आप सबको Ethereum व क्रिप्टो के बारे में Basic जानकारियां प्राप्त हुई होंगी।

यदि आपके मन में Ether को लेकर कोई सवाल है, तो आप हमें कमेंट करके या e-mail द्वारा अपने प्रश्न पूछ सकते हैं, हम उन प्रश्नों के उत्तर, आपको देने का प्रयास करेंगे।

Read Also :-

Leave a Reply

Your email address will not be published.